Sat. May 25th, 2024

MP : मध्य प्रदेश के 18 जिलों में ओले गिरने की संभावना, 4 जिलों में होगी बारिश

भोपाल/रायपुर: बंगाल की खाड़ी से अपने साथ नमी लेकर आई हवाओं ने मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के मौसम को बदल दिया है. इन राज्यों के ऊपर बने बादलों में पानी है. इसके कारण मध्य प्रदेश के 4 जिलों में बारिश भी शुरू हो गई है. रायसेन, सागर और नरसिंहपुर में ओले भी गिरे हैं. मौसम विभाग की मानें तो अगले 48 घंटों में मध्य प्रदेश के 18 जिलों में ओलावृष्टि हो सकती है.

छत्तीसगढ़ में भी बदला मौसम का मिजाज, गिरेंगे ओले
छत्तीसगढ़ में भी 17 फरवरी से मौसम का मिजाज बदल गया है. बुधवार सुबह धूल भरी आंधी चली. महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र के ऊपर बने चक्रवाती सिस्टम की वजह से छत्तीसगढ़ में भी तेज आंधी चली. मौसम विभाग ने ओलावृष्टि के आसार जताए हैं. तेज हवाओं के कारण राज्य में तापमान में भी गिरावट आई. ठंड फिर से महसूस होने लगी है. प्रदेश के कई हिस्सों में गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी की संभावना है.

मध्य प्रदेश के इन जिलों में है ओले गिरने की चेतावनी
मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के शहडोल और होशंगाबाद संभाग समेत रीवा, सतना, छिंदवाड़ा, सिवनी, दमोह, सागर, रायसेन, सीहोर, भोपाल, गुना, दतिया और भिंड जिले में ओले गिरने की संभावना जताई है. इन सभी जिलों को अलर्ट पर रखा गया है. भोपाल, सागर, रायसेन, सीहोर जिले के कई स्थानों पर 17 फरवरी की सुबह से ही बारिश जारी है. मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 24 घंटों के दौरान यहां बारिश के साथ ओलावृष्टि होगी.

दोनों राज्यों में 19 फरवरी तक स्थिति ऐसी ही बनी रहेगी
रायसेन, सागर और नरसिंहपुर जिलों में कुछ स्थानों पर बारिश के साथ-साथ ओले भी गिरे हैं. मौसम विभाग ने बताया है कि अभी मौसम में नमी बनी रहेगी. दक्षिण पूर्व मध्य प्रदेश में 17 फरवरी को बारिश हो सकती है. इसके अलावा 17-19 फरवरी के बीच छत्तीसगढ़ में भी बारिश का पूर्वानुमान है. मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में 19 फरवरी तक स्थिति ऐसी ही बनी रहेगी. रात के तापमान में गिरावट जारी रहने की संभावना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *